Home / Articles / एक बार आयुर्वेद के विजया यानी कैनेपीज मेडिकल हेल्थ में जरूर दिखाना चाहिए यह वह सिस्टम है, जोकि भारत से चलकर दुनिया भर में दर्द निवारक दबाव के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है
एक बार आयुर्वेद के विजया यानी कैनेपीज मेडिकल हेल्थ में जरूर दिखाना चाहिए यह वह सिस्टम है, जोकि भारत से चलकर दुनिया भर में दर्द निवारक दबाव के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है

एक बार आयुर्वेद के विजया यानी कैनेपीज मेडिकल हेल्थ में जरूर दिखाना चाहिए यह वह सिस्टम है, जोकि भारत से चलकर दुनिया भर में दर्द निवारक दबाव के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है

अगर आपके जोड़ों में दर्द है या फिर शरीर किसी भी हिस्से में दर्द ठीक होने में नहीं आ रहा है तो आपको एक बार आयुर्वेद के विजया यानी कैनेपीज मेडिकल हेल्थ में जरूर दिखाना चाहिए यह वह सिस्टम है, जोकि भारत से चलकर दुनिया भर में दर्द निवारक दबाव के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। अनंता विजला हेल्थ वेलनैस क्लिनिक के प्रमुख विशेषज्ञ डॉक्टर पीयूष जुनेजा के मुताबिक हजारों सालों से भारत में मेडिकल कैनाबिस का उपयोग होता आ रहा है। आयुर्वेद में कैनाबिज को विजया कहा गया है, जोकि वात और कफ रोगों में विशेष तौर पर प्रभावी है। वात रोग शरीर में दर्द के लिए प्रमुख तौर पर जिम्मेदार होता है। इसमें जोड़ों के दर्द से लेकर सिर का दर्द भी शामिल है। साथ ही मानसिक रोगों के लिए आयुर्वेद में प्रमुख तौर पर वात असंतुलन को ही बताया गया है।डॉ जुनेजा के मुताबिक अगर आपके शरीर में कहीं भी दर्द है या आपको नींद नहीं आने की बीमारी है और नींद की गोलियां खाते खाते आपने अपने शरीर में बहुत सारी अन्य बीमारियां घर करने लगी हैं तो आपको आयुर्वेद में जरूर किसी वरिष्ठ वैध से संपर्क करना चाहिए।

भारत में वाद और कफ रोगियों को तुरंत आराम दिलाने और लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए अब भारत ही नहीं दुनियाभर के डॉक्टर्स आयुर्वेद की विजया (कैनाबीज) की दवाओं का इस्तेमाल करने लगे हैं। ये दवाएं आसानी से किसी भी आयुर्वेद डॉक्टर्स के इलाज के दौरान दी जाती है। इसको लेकर अनंता विजया वैलनेस नाम से एक कार्यक्रम अनंता हेम्प वर्कस चला रहा है। जिसमें आयुर्वेद के डॉक्टर विजया या कैनेपीज मेडिकल पर आयुर्वेद के डॉक्टर्स को जागरुक किया जा रहा है। इस अभियान के तहत अजंता विजया वैलनेस के 35 से ज्य़ादा क्लिनिक खुल चुके हैं। अगले कुछ समय में इनकी संख्या 200 से ज्य़ादा की जाएगी।

Scroll To Top