Home / Articles / Wake up Delhi | Jaago with Dwarka Express

Wake up Delhi | Jaago with Dwarka Express

Unsafe Delhi | Dwarka Express

Unsafe Delhi | Dwarka Express

बहुत बड़ा प्रश्न हमारे समाज के लिए लोगो के लिए, जो हमारे कानून ने हमारे सामने रख दिया है…??? अगर मुंबई हमलावर अजमल कसाब, यदि उस वक़्त नाबालिग होता यानि की 17 साल से कम उम्र का होता तो क्या वो अपराधी नहीं होता ? क्या फर्क पड़ता है वो आतंकवादी हो या बलात्कारी क्योकि वो है तो नाबालिग ना…after all crime is crime ..

आपने सोचा है अब अगर पाकिस्तान ने ये पढ़ा तो क्या होगा, उनको मौका मिल जाएगा नए आतंकवादी तैयार करने का और   हमारे देश में आतंक फ़ैलाने का..क्योकि उनको पता है हमारे देश का कानून नाबलिको के लिए सजा नहीं क्षमा दान देता है…अपराध जितना मर्ज़ी नृशंस हो पर हर अपराध से बड़ा कानून है हमारे देश का…हम लोग शायद ये भूल गए है की यह कानून हमारी रक्षा और इन्साफ के लिए बनाये गए है, ना की इनका दुरूपयोग करके हम यहाँ हर चीज़ में राजनीती के खेल खेले…

अब आप सोचिये की पाकिस्तान या कोई और भी देश हमारे इस कानून का कितना फायदा उठा सकता है और आसानी से हमारे देश में आतंकी हमले कर सकता है…तो हमने अपने दुस्मानो को ये मौका दे दिया आप आतंकवादी बनाओ 12-17 साल की उम्र के, वो आसानी से हम पर हमला करे और अगर गलती से पकडे जाए तो हमारा कानून उन्हें नाबालिक करार करके आसानी से छोड़ देगा…और वो आज़ाद…और हम अपने देश के काननों की बेड़ियो में जकड़े हुए आम इंसान… जय हिन्द का नारा  बस नारा बन कर रह गया है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top